संतूर वादक पंडित शिवकुमार शर्मा



  • भारत के मशहूर संतूर वादक पंडित शिवकुमार शर्मा का मुंबई में हृदय गति रुकने के कारण 10 मई, 2022 को 84 वर्ष की उम्र में निधन हो गया।
  • उनका जन्म 13 जनवरी, 1938 को जम्मू में हुआ था। इनके पिता का नाम पंडित उमा दत्ता शर्मा था।
  • उनके पिता ने उन्हें महज 5 वर्ष की उम्र में ही तबला और गायन की शिक्षा देना प्रारम्भ कर दिया था। उन्हें संतूर वादन की प्रेरणा अपनी मां से मिली। वे अपने पुत्र को भारतीय शास्त्रीय संगीत में संतूर बजाते हुए देखना चाहते थे। उन्होंने 13 वर्ष की आयु में संतूर बजाना शुरू कर दिया, और इस वाद्य यंत्र को दुनियाभर में प्रसिद्धि दिलाई। उनके प्रयासों से दुनियाभर में संतूर को एक म्यूजिकल इंस्ट्रूमेंट के रूप में पहचान मिली।
  • पंडित शिवकुमार को संतूर वादन के लिए कई राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय सम्मान एवं पुरस्कार मिले। उन्हें 1985 ई. में बाल्टीमोर, संयुक्त राज्य अमेरिका की मानद नागरिकता मिली। उन्हें वर्ष 1986 ई. में संगीत नाटक अकादमी पुरस्कार, 1991 ई. में पद्मश्री और 2001 में पद्म विभूषण से अलंकृत किया गया।
  • बॉलीवुड में 'शिव-हरी' नाम से मशहूर रहे और हरिप्रसाद चौरसिया के साथ जोड़ी बनाकर कई सुपरहिट गानों में संगीत दिया था। उनका प्रसिद्ध गाना फिल्म 'चांदनी' का 'मेरे हाथों में नौ-नौ चूड़ियां' रहा है।