मुख्य बातें:

  • मीराबाई चानू ने जीता टोक्यो ओलिम्पिक, 2020 में रजत पदक
  • देश को दिलाया 21 साल बाद वेटलिफ्टिंग में पदक
  • चानू से पहले वर्ष 2000 में सिडनी ओलिम्पिक में कर्णम मल्लेश्वरी ने वेटलिफ्टिंग में कांस्य पदक जीता था


  • मीराबाई चानू ने टोक्यो ओलिम्पिक, 2020 में देश को पहला पदक दिलाया है। उन्होंने 49 किलोग्राम भारवर्ग में कुल 202 किलो वजन उठाकर रजत पदक जीता। 
  • चानू से पहले वर्ष 2000 में सिडनी ओलिम्पिक में कर्णम मल्लेश्वरी ने वेटलिफ्टिंग में कांस्य पदक जीता था, 21 साल बाद अब देश को रजत पदक दिलाया है। 
  • इससे पूर्व रियो ओलिम्पिक 2016 में अपने एक भी प्रयास में वे सही तरीके से वजन नहीं उठा पाई थीं और डिस-क्वालिफाई कर दिया गया था। 

वर्ल्ड वेटलिफ्टिंग चैम्पियनशिप में जीता गोल्ड

  • वर्ष 2017 में मीरा ने 49 किलो वेट कैटेगरी में 194 किलोग्राम वजन उठाकर वर्ल्ड वेटलिफ्टिंग चैम्पियनशिप में स्वर्ण पदक जीता था। इस तरह वह इस प्रतियोगिता में पदक जीतने वाली पहली भारतीय वेटलिफ्टर (weightlifter) बनी। 
  • मीराबाई ने वर्ष 2018 के कॉमनवेल्थ गेम्स में गोल्ड मेडल जीता था।