• बॉलीवुड में 80 के दशक की लीड एक्ट्रेस और टीवी कलाकार ज़रीना वहाब आज 17 जुलाई को अपना 63वां बर्थडे सेलिब्रेट कर रही हैं। उन्होंने हिंदी फिल्मों के अलावा तमिल, तेलुगु फिल्मों में भी अभिनय किया है। ज़रीना को 'चितचोर' और 'गोपाल कृष्णा' जैसी फिल्मों में अपने दमदार अभिनय से बॉलीवुड में पहचान मिली। 
  • ज़रीना वहाब का जन्म 17 जुलाई, 1956 को आंध्र प्रदेश के विशाखापत्तनम में हुआ था। अपनी प्रारम्भिक शिक्षा पूरी करने के बाद उन्होंने पुणे स्थित फिल्म एंड टेलीविजन इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया से एक्टिंग की पढ़ाई की, जो उनके सपने का ही हिस्सा था। उन्होंने एक्टर आदित्य पंचोली से वर्ष 1986 में शादी की है, जोकि उनसे पांच साल छोटे हैं। इनके एक बेटा सूरज और एक बेटी सना है। 
  • जब उन्होंने बॉलीवुड में एंट्री करने की कोशिश की तो जरीना को एक्टर राज कपूर ने यह कह कर रिजेक्ट कर दिया था कि वह सिंपल दिखने वाली साधारण सी लड़की थीं और इसी के चलते उन्हें रिजेक्ट कर दिया गया था। जरीना के बारे में कहा गया कि इस लड़की में ग्लैमर नहीं है।
  • जरीना ने अपने फिल्मी कॅरियर की शुरुआत वर्ष 1974 में देव आनंद की फिल्म 'इश्क इश्क इश्क' से की थी जो बॉक्स आफिस पर ज्यादा कुछ नहीं कर पाई। हिंदी सिनेमा में ज़रीना को पहचान फिल्म 'चितचोर' से मिली। चितचोर में ज़रीना के अभिनय की लोगों ने बेहद तारीफ़ की। इस फिल्म के बाद भी ज़रीना ने अमोल पालेकर के साथ कई सफल फिल्में दी और बॉलीवुड की एक सफल जोड़ी कहलाई। एक आम घर की महिलाओं के किरदार को उन्होंने कई बार निभाया।
  • ज़रीना ने राज बब्बर के साथ फिल्म 'जज्बात' में की थी। 
  • ज़रीना को फिल्म घरौंदा के लिए फिल्म फेयर बेस्ट एक्ट्रेस का नॉमिनेशन भी मिल चुका है।
  • लंबे समय तक फिल्मों से दूर रहने के बाद उन्होंने शाहिद कपूर की 'दिल मांगे मोर' फिल्म से वापसी की। इसके बाद उन्होंने 'किसना', 'माई नेम इज खान', 'जिला गाजियाबाद' और 'दिल धड़कने दो' जैसी फिल्मों में काम किया।
  • हाल में रिलीज हुई विवेक ओबेरॉय की फिल्म 'पीएम नरेंद्र मोदी' में जरीना उनकी मां का रोल प्ले करती नजर आई थीं।