‘डिजिटल धन व्यापार योजना’  डिजिटल पेमेंट को बढ़ावा देने के लिए सरकार ने लकी ड्रॉ स्कीम की घोषणा



नई दिल्ली। कैशलेस इकॉनमी को बढ़ावा देने के लिए सरकार ने लकी ड्रॉ स्कीम की शुरुआत कर है. क्रिसमस के दिन से सरकार ने सौगात के रूप में देशवासियों को दो योजनाओं का लाभ दिया है.

सरकार ने ग्राहकों के लिए और छोटे व्यापारियों के लिये ‘प्रोत्साहक योजना’ की शुरूआत की है.” ग्राहकों को प्रोत्साहन करने के लिये ‘लकी ग्राहक योजना’ और व्यापारियों को प्रोत्साहन करने के लिए ‘डिजीटल धन व्यापारी योजना’ की शुरूआत की गई है. आइए जानते हैं आखिर क्या है ‘डिजिटल धन व्यापार योजना’.

सरकार ने डिजिटल भुगतान को बढ़ावा देने के लिए ग्राहकों और व्यापारियों को पुरस्कार देने की घोषणा की है.

‘डिजिटल धन व्यापारी योजना’ में कारोबारियों के लिए ईनाम रखा गया है. यह योजना 25 तारीख यानी कल से शुरू हो चुकी है.इस योजना के तहत हर हफ्ते 7 हजार अवॉर्ड दिए जाएंगे और अवॉर्ड में अधिकतम 50 हजार रुपए की राशि दी जाएगी.14 अप्रैल को तीन मेगा ड्रॉ निकाले जाएंगे. इनमें विजेताओं को 1 करोड़ रुपए, 50 लाख रुपए और 25 लाख रुपए का इनाम दिया जाएगा.प्राइवेट कार्ड- वॉलेट इस योजना में शामिल नहीं हैं. 3000 से ज़्यादा की पेमेंट भी इस योजना में शामिल नहीं है. 50 रुपए से 3000 रुपए तक की पेमेंट करने वालों के लिए योजना लाई गई हैउपभोक्ता और कारोबारियों को ई-पेमेंट्स के प्रयोग के लिए प्रोत्साहन देने के लिए 340 करोड़ रुपए के बजट की ये योजनाएं पेश की गई हैं.
डिजिटल माध्यम से पेट्रोल पंप, बीमा प्रीमियम, राष्ट्रीय राजमार्गों पर टोल कर और रेलवे टिकट के भुगतान पर छूट भी दी जाएगी. ग्रामीण इलाकों में कार्ड और पीओएस मशीनों की आपूर्ति के लिए भी एक योजना शुरू की जाएगी.

मन की बात कार्यक्रम में पीएम मोदी ने कहा था, ‘’डिजीधन व्यापार योजना’ में व्यापारी जुड़ें और अपना कारोबार भी कैशलेस बनाने के लिए ग्राहकों को भी जोड़ें. व्यापारियों का अपना व्यापार भी चलेगा और ऊपर से इनाम का अवसर भी मिलेगा. उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ने यह योजना, समाज के सभी वर्गों, खास करके ग़रीब और निम्न मध्यम-वर्ग के लिए बनाई है.