नई सिलिकोसिस नीति, 2019

क्या आप सिलिकोसिस बीमारी से पीड़ित हैं तो राजस्थान सरकार दे रही है 3 लाख रुपये की आर्थिक सहायता, करें आवेदन


  • राजस्थान में मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत के नेतृत्व में राज्य सरकार हर वर्ग के कल्याण के लिए बेहतर कार्य कर रही है। प्रदेश के जरूरतमंदों और गरीबों के कल्याण के लिए विभिन्न योजनाएं संचालित की जा रही हैं। प्रदेश के सिलिकोसिस पीड़ितों की मदद के लिए राज्य सरकार द्वारा नई सिलिकोसिस नीति, 2019 प्रारंभ की है, जो पीड़ितों एवं उनके परिवारों के लिए बेहद मददगार साबित हो रही है।


योजना के तहत मिलने वाले लाभ


बीमारी के प्रमाणीकरण पर आर्थिक सहायता 

  • राजस्थान सरकार द्वारा नई सिलिकोसिस नीति के माध्यम से सिलिकोसिस बीमारी के प्रमाणीकरण पर पीड़ित को पुनर्वास के लिए 3 लाख रुपये की सहायता राशि दी जा रही है। 
  • रोगी की मृत्यु पर दाह संस्कार के लिए 10 हजार रुपये की आर्थिक सहायता भी उपलब्ध करवाई जा रही है। 
  • पीड़ित की मृत्यु के पश्चात उसके परिवार के आश्रित को 2 लाख रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जा रही है। आश्रित महिला को आयु के अनुसार विधवा पेंशन प्रदान की जा रही है।


19 हजार से अधिक को मिली पुनर्वास के लिए आर्थिक सहायता 

  • राजस्थान सरकार द्वारा प्रदेश के 19,417 सिलिकोसिस पीड़ितों का प्रमाणीकरण कर उन्हें पुनर्वास के लिए 3 लाख रुपये की आर्थिक सहायता राशि प्रदान की है। वहीं मृत्युपंरात 5 हजार से अधिक आश्रित परिवारों को 2 लाख रुपये की आर्थिक सहायता राशि प्रदान की गई है।  
  • इस नीति के तहत पीड़ितों को सामाजिक सुरक्षा के तहत पेंशन दी जा रही है। अब तक 31,319 लाभार्थियों को 1500 रुपये प्रतिमाह सिलिकोसिस पेंशन दी जा रही है। 


विधवा पेंशन का लाभ

  • सिलिकोसिस मृतक की विधवा को विधवा पेंशन योजना का लाभ दिया जा रहा है और प्रतिमाह 500 रुपये से 1500 रुपये तक पेंशन दी जा रही है।


रोगी के बच्चों को मिल रहा पालनहार योजना का लाभ

  • मुख्यमंत्री की पहल पर ही प्रदेश में सिलिकोसिस पीड़ितों के बच्चों को पालनहार योजना का लाभ दिया जाने लगा है। इस बीमारी के पीड़ित बच्चों को पालनहार योजना के तहत मिलने वाले लाभ जैसे— 0-6 वर्ष तक की आयु के बच्चों के लिए प्रतिमाह 500 रुपये (आंगनबाड़ी जाना अनिवार्य), 6-18 वर्ष तक की आयु के बच्चों हेतु 1000 रुपये प्रतिमाह (विद्यालय जाना अनिवार्य), वस्त्र, स्वेटर, जूते आदि हेतु 2000 रुपये वार्षिक अतिरिक्त एकमुश्त राशि आदि दिए जा रहे हैं।
  • सिलिकोसिस पीड़ित के परिवार को आस्था कार्डधारी परिवार के समान सभी सुविधाओं जैसे राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम आदि का लाभ मिल रहा है। 

 

पीड़ित स्वयं कर सकते हैं ऑनलाइन आवेदन

  • राज्य सरकार द्वारा सिलिकोसिस पीड़ितों को मिलने वाली सहायता राशि एवं अन्य सुविधाओं को पारदर्शी रूप से पीड़ितों तक पहुंचाने के लिए राज सिलिकोसिस पोर्टल प्रारंभ किया है। जिसके माध्यम से पीड़ित स्वयं भी https://silicosis.rajasthan.gov.in पर जाकर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। इस पोर्टल पर पीड़ितों के रजिस्ट्रेशन, प्रमाणन, सहायता राशि जैसी अन्य सुविधाएं ऑनलाइन हो रही है। इसके लिए एसएसओ आईडी होना आवश्यक है।
  • साथ ही अपने नजदीकी ई-मित्र केन्द्र पर जाकर योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं।