• क्या वाकई हम मानव वासनाओं के इतने अंधा हो गये कि आज चारों ओर मानव समुदाय में पुरुष की इन आपराधिक गतिविधियों को नियंत्रित करने के लिए ऐसे पुरुषों को नपुंसक बनाया जो रहा है जो बच्चों के साथ यौन शोषण करते हैं। जी हां, अमेरिका के अल्बामा राज्य में अब यौन अपराध करने वालों की खैर नहीं। उनके खिलाफ सख्त कार्रवाही की जाएगी। इस राज्य में यौन शोषण करने वाले दोषियों को नपुंसक बनाने वाला इंजेक्शन लगाया जाएगा।
  • यहां पर 'केमिकल कैस्ट्रेशन' विधेयक में स्पष्ट प्रावधान है कि यदि कोई 13 साल से कम उम्र के बच्चों के खिलाफ यौन शोषण का दो​षी पाया जाता है तो उसे नपुंसक बनाने के लिए इंजेक्शन का उपयोग किया जाएगा। अल्बामा के गर्वनर काय इवे ने इस कानून पर हस्ताक्षर किए। इस विधेयक के अनुसार, दोषी व्यक्ति को नपुंसक बनाने के इंजेक्शन या दवा दी जा सकती है।
  • यह इंजेक्शन टेस्टोस्टेरोन हार्मोन को बनने से रोक देता है और पुरुषों में नुपंसकता आ जाती है। दोषियों को जेल से पैरोल देने से पहले दवा प्राप्त करनी होगी। जो दोषी इंजेक्शन लगाने से मना करते हैं उन्हें जेल से नहीं छोड़ा जाएगा।
  • खबरों के अनुसार, जो भी व्यक्ति यौन शोषण का दोषी पाया जाता है, उसे खुद ही दवा खरीदनी होगी। दोषी को यह दवा कितनी मात्रा में और कब देनी है, इसका फैसला केवल जज के हाथों में होता है। अल्बामा की दोनों सदनों में यह विधेयक पेश किया गया है। यह विधेयक उन व्यक्तियों पर लागू होगा जो 1 सितंबर, 2019 के बाद यौन शोषण से संबंधित अपना अपराध स्वीकार करेंगे।
  • अल्बामा के अतिक्ति अमेरिका में 7 राज्य ऐसे हैं जहां 'केमिकल कैस्ट्रेशन' का इस्तेमाल होता है। लूसिआना और फ्लोरिडा में भी ये प्रावधान है। आपको बता दें कि नपुंसक बनाने की सजा दक्षिण कोरिया और इंडोनेशिया में भी दी जाती हैं।